भंग नु रगड़े लांदा नी गोरा डा लाडा

भंग नु रगड़े लांदा नी गोरा डा लाडा,
ना कोई घोड़ी न कोई वाजा,
ओ बेल ते चड़ेया आउंदा नी  गोरा डा लाडा,

नैना दे विच नाम दी मस्ती वखरी है मेरे शिव दी हस्ती,
मथे चंदा जटा विच गंगा कनि मुंद्रा पाउँदा नी  गोरा डा लाडा

व्याह हॉवे या ठाका शिव दा,
हुँदा धूम धड़ाका शिव दा,
खान पीन दी कमी नी छड़ दा खुले लंगर लाउंदा
गोरा डा लाडा

भोला शंकर डमरू वाला,
सारा जग एहदा मतवाला,
कमल सितारे रूप निराला,
सब दे मन नु भाउंदा  गोरा डा लाडा
श्रेणी
download bhajan lyrics (317 downloads)