कद खुलेगा बंद पट थारा

कद खुलेगा बंद पट थारा
कद मै दर्शन पावांगा
अब तो बाबा थक मे हारया
थारी बाट निहारा हा

मै तो आ ना सकु हु बाबा थे तो म्हारा घरे आओ,
ग्यारस को जो नियम बणायो आज थे आने निभाओ
ज्योत जगा ने बाबा थारा भजना ने मै सुणावांगा

जग पे बाबा इतनी बडी जो विपदा आज आई है,
हर विपदा पे थे तो बाबा मोरछडी लहराई है
सबका सकंट दुर करो थे जद जाने सुख पावांगा

नवयुवक ने आस हैं थापे थापे पुरो भरोसो है,
जद भी बंद पट थारा खुलेगा पेल्या नंबर मेरो है
घणी हो गई लुका छुपी प्यार थारो कद पावांगा

Singer : yogesh prashant Nagda Dhar
(9179011869,8269337454)
download bhajan lyrics (387 downloads)