मैया थाणे आज बुलावा

व्याह रचायो लाडली रो चाव सु
मैया थाणे आज बुलावा साँची भगती भाव सु
व्याह रचायो लाडली रो चाव सु

सबसू पहलेया थारे नाम को मंगल पाठ कराए हां
बना बनी ने आशीष देने थाने आज बुलाया माँ
अब तो आजा चाल झुंझुनू गाव सु
मैया थाणे आज बुलावा साँची भगती भाव सु

कुम कुम पत्री भेज दियो हां
न्युतो भी लगवायो हां हे आओ गा आशीष देने आसा घनी जगाया हां
धन्ये करो ये इब थारे दरसाव सु
मैया थाणे आज बुलावा साँची भगती भाव सु

शुभ विवाह को कारज सारेयो थाणे पार लगाणों है
जब तक बेटी विदा न हॉवे आसन अठे जमानो है
जाइयो मत न दादी श्री के भाव सु
मैया थाणे आज बुलावा साँची भगती भाव सु
download bhajan lyrics (514 downloads)