सर्दी गर्मी बरसातो में

सर्दी गर्मी बरसातो में जागु मैं तेरे जगरातो में,
नो दिन मेरे घर रेहना माँ अब की बार नोरातो में
सर्दी गर्मी बरसातो में

तेरे रूप सारे लगे मुझको प्यारे करू गा मैं रज रज के तेरे नजरे,
मेरे घर में गूंजे गे तेरे जय कारे धुल जायेगे पाप जन्मो के सारे
तुझे पूजा हर हालातो में तुझे माँगा सो सोगातो में
नो दिन मेरे घर रेहना माँ अब की बार नोरातो में
सर्दी गर्मी बरसातो में

ना करना मेरी माँ तू कोई बहाना मेरी लाज रखना हु तेरा दीवाना
किया है जो वादा तो वादा निभाना
तू आये तो फिर नोराते कर के जाना
जरा झाँक मेरे जज्बातों में ज्योतो से सजी प्रातो में
नो दिन मेरे घर रेहना माँ अब की बार नोरातो में
सर्दी गर्मी बरसातो में

सजाऊगा घर मैं मैं दरबार तेरा
करुगा माँ फूलो से संगार तेरा
नजर रोज तेरी उतारा करुगा
करुगा मा सो बार दीदार तेरा
मेहँदी रचाऊ गा हाथो में
मत टाल न बातो बातो में
नो दिन मेरे घर रेहना माँ अब की बार नोरातो में
सर्दी गर्मी बरसातो में
download bhajan lyrics (179 downloads)