बुलावा मेरी माँ का आ गया

नंगे पैरो माँ के दर जाउंगी बुलावा मेरी माँ का आ गया,
मातारानी के के दर्श पाउंगी
बुलावा मेरी माँ का आ गया,

ओ माली इक माला बना दे माँ को फूलो वाली
गेंदा चमेली और गुलाब की खुशबु आये निराली
माता रानी को पहनाऊ गी बुलावा मेरी माँ का आ गया,

ओ दरजी इक चुनरी सी दे माँ को प्यारी प्यारी ,
जड़े हुए हो जिस में सितारे दमके घोटे किनारे,
शेरोवाली को वो ओढाऊ गी
बुलावा मेरी माँ का आ गया,

ओ हलवाई हलवा बना दे और बना दे पुड़ी,
बांटू गी मैया के भवन पे मिल गई है मंजूरी
महारानी को महारानी भोग लगाऊ गी
बुलावा मेरी माँ का आ गया,
download bhajan lyrics (82 downloads)