बड़ी भागा वाली हुन्दी है ओ था जिथे माँ दी ज्योत जगदी

बड़ी भागा वाली हुन्दी है ओ था जिथे माँ दी ज्योत जगदी
दाती मेहरावाली करदी है छा जिथे माँ दी ज्योत जगदी

जिस घर माँ दी ज्योत है जगदी
हर चिंता ओ दूर है रखदी
दुःख संताप दा केहर ना पैंदा
दाती फेरा पावे उस था जिथे माँ दी ज्योत जगदी
बड़ी..........

खुशिया आके करन बसेरा
जिस घर अंदर माँ दा डेरा
हर उत्थे रेहमत रेहँदी
महरा वाली महरा करदी
उत्थे जपदे नसीबा वाले ना जिथे माँ दी ज्योत जगदी
बड़ी..........

जिसे वी गल दी थोड़ ना रेहँदी
जग दी नेमता दी लोड ना पेंदी
कदे ना चिंता ने आके घेरिया
जिस घर दाती पानदी फेरा
माँ कोमल ऐ फड़ लेगी बाह जिथे माँ दी ज्योत जगदी
बड़ी..........
download bhajan lyrics (94 downloads)