मेरे मन बस गया है यो अंजनी का हनुमान

मेरे मन बस गया है यो अंजनी का हनुमान,
अंजनी माँ का राज दुलारा,
पवन पिता का पुत्र ये प्यारा म्हारा से भगवन,
मेरे मन बस गया है यो अंजनी का हनुमान

लाल लंगोटा हाथ में सोटा,
लाल लंगोटा हाथ में सोटा मोटा से साहूकार,
मेरे मन बस गया है यो अंजनी का हनुमान,

मंगल का दिन शुभ का होसे,
मिल्या अमर वरदान मिल्या अमर वरदान,
मेरे मन बस गया है यो अंजनी का हनुमान,
download bhajan lyrics (238 downloads)