अरज म्हारी सुणता जाजो जी

अरज म्हारी सुणता जाजो जी
भीमाजी रा लाल मेहर तुम करता रहेजो जी

ग्वाल बाल सब ठाड़ा रहे और नवी नवी कर परणाम
माता गौर का लाडीला रे तुम गौवन का रखवाल

सखियाँ सारी दौड़ के आई बाई कृष्णा के पास
जुग जुग नातो अमर रहे यो भाई बईण को प्यार

तक तक नैना तकि रहे और बहे असुवन की धार
हिवड़ो म्हारो धक धक बोले छोडी चल्या मझदार

स्याणी सुंदर घोड़ी तुम्हारी रतन जड़ी ले लगाय
मसरू पितांबर झीण कसी रे चल सुहाणी चाल


प्रेषक प्रमोद पटेल
यूट्यूब पर
1.निमाड़ी भजन संग्रह
2.प्रमोद पटेल सा रे गा मा पा
9399299349
9981947823
श्रेणी
download bhajan lyrics (12 downloads)