ते मौज हून लगी है बड़ी

हो मेरी मैया ने जदों दी फडी है बाह
ते मौज हून लगी है बड़ी
सुख झोली विच पाए है मेरी माँ
ते मौज हून लगी है बड़ी

जपदा मैं नाम कदे गिनती न करदा
फेर दा मनके माला भी न फड दा
हो मेरे रोम रोम वसे मेरी माँ
ते मौज हून लगी है बड़ी

ज्योता दा उजाला करे सारे संसार नु
आउंदा जौंदा रहा मैं ते तेरे दरबार नु
हो मिले बार बार चरना च था
ते मौज हून लगी है बड़ी

जिन्दी नु माँ तेरे बिना कोई नही सी जांदा
ऐसी मेहर किती सारा जग पेहचान दा
हो कर दिता मशहूर मेरा ना
के मौज हून लगी है बड़ी
download bhajan lyrics (27 downloads)