डमक डमक डमरू थारा बाजे

ड्मक ड्मक डमरू थारा बाजे,
सब भक्ता का काम बने,
रविवार आयो पधारों भेरू बाबा,
सब भक्ता थाने याद करे ॥

बांझा के पुत्र देवे कौड़ियां के काया,
हर भक्ता की पुकार सुने,
आवे है अमीर, गरीब भी आवे,
सब भक्ता थारे पाव पड़े ॥

पोष दसम पूनम दिन भारी,
मेवा मिठाई को भोग चढ़े,
पारस प्रभु के दरबार मे विराजे,
सब भक्ता थारो ध्यान धरे ॥

भैरव चालीसा गुणगान गाये,
तेल सिंदूर थारे माथ चढ़े,
हिमाचल सूरी जी को दर्श दिखाया,
सब संता मुनि थारो जाप करे ॥

आपरे दरस से दुख भाग जाए,
मनीष भक्ता संघ नाच करे,
ड्मक ड्मक डमरू थारा बाजे,
सब भक्ता का काम बने॥
श्रेणी
download bhajan lyrics (122 downloads)