शुक्र मनावा दातेया

दिन रात गुरां दा गुण गावा
मैं तेरा शुक्र मनावा दातेया
मैं तेरा शुक्र मनावा दातेया....

अज जेहा मौका वारी वारी नईयो मिलणा,
गुरा नु सुनाना अज सारा हाल दिल दा,
चरणा विच शीष झुकावां,
मैं तेरा शुक्र मनावा दातेया....
मेहरा वाले दातेया...मेहरा वाले दातेया....

रज रज के मैं अज गुरा नु मनौना ऐ,
दिल विच अज मैं गुरा नु वसौना ऐ,
मैं ते गुरा जी दा दर्शन पावा,
मैं तेरा शुक्र मनावा दातेया....
मेहरा वाले दातेया...मेहरा वाले दातेया....

अज खुशिया दा मीह पया वसदा,
जो ना आवे सत्संग रह जावे तरसदा,
सँगता ने वी दर्शन पौना,
मैं तेरा शुक्र मनावा दातेया....
मेहरा वाले दातेया...मेहरा वाले दातेया....
download bhajan lyrics (104 downloads)