मेरी बाबा से अर्ज़ी है

एक बात मुझे ये कहनी है मैंने बाबा से कह दी है,
एक कीर्तन मेरे घर पर हो मेरी बाबा से अर्ज़ी है॥

जिस दिन कीर्तन होगा श्याम हर गली से भक्तां आएंगे,
हर गली महकेगी फूलों से इस घर को खाटू बनाएंगे,
फूलों के वर्षा कर देंगे और इत्र खूब बरसायेंगे,
एक बात मुझे ये कहनी है मैंने बाबा से कह दी है.....

जिस दिन कीर्तन होगा श्याम श्रृंगार तेरा करवाएंगे,
बड़े भाव से तुझको रिझाएंगे और तेरी आरती जाएंगे,
तुम माल खज़ाना भर देना झोली हम फैलाएंगे,
एक बात मुझे ये कहनी है मैंने बाबा से कह दी है.....

नेरे श्याम ज़रा इनको देखो तेरे प्रेमी अर्ज़ी लगाते हैं,
हर घर में एक दिन कीर्तन हो अर्ज़ी ये गिरीश लगाते हैं,
एक बात मुझे ये केहनी है मेरी बाबा से अर्ज़ी है,
एक कीर्तन मेरे घर पर हो बाकि बाबा की मर्ज़ी है,
बाकी फिर तेरी मर्ज़ी है....
download bhajan lyrics (110 downloads)