ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री

ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री,
भवन में आना होगा री ज्योत पर आना होगा री,
ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री.....

केसर रोली तिलक मंगवाया,
फूलों का एक हार बनाया,
गले में हार पहन जा री ज्योत पर आना होगा री,
ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री.....

लाल चुनरिया लाल ही साड़ी,
गोटे में बडी लग रही प्यारी,
तुम्हें उड़ाना होगा री ज्योत पर आना होगा री,
ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री.....

कुम्हार से मैया कलश मंगाया,
अमवा की डाली से उसे सजाया,
कलश भराना होगा री ज्योत पर आना होगा री,
ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री.....

पान सुपारी नारियल लाई,
लोंगन से दिविया भर लाई,
हवन कराना होगा री ज्योत पर आना होगा री,
ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री.....

हलवा पूरी छोले लाई,
सब रस मेवा संग में लाई,
भोग लगाना होगा री ज्योत पर आना होगा री,
ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री.....

भक्तों ने दरबार लगाया,
चंदन चौकी तुम्हें बिठाया,
दर्श  दिखाना होगा रे ज्योत पर आना होगा री,
ओ मेरी मैया शेरावाली भवन में आना होगा री.....
download bhajan lyrics (94 downloads)