शिव के नाग की फुफ्कार

भोले जी इन्हे पारे हटा,
देख देख मेरा जिया डरे,
तेरे गले में नाग फुफ्कार भरे,
शिव के नाग की फुफ्कार भरे…..

भोले जी इन्हे पारे हटा,
देख देख मेरा जिया हिम्मत,
तेरे गले में नाग गौरी शंकर,
तेरे गले में नाग फुफ्कार भरे,
शिव के नाग की फुफ्कार भरे…..

गौरा तू क्यो हुए बावरी,
बिन छेड़े नाग ना ​​किसी के लड़े…..

गंगा तेरे सर में विराजे,
जिसमे मुरादो की रख बहे,
तेरे गले में नाग फुफ्कार भरे…..

गंगा गंगा मत कोसे गौर,
ये दुनिया के पाप हरे,
बिन छेड़े नाग ना ​​किसी के लड़े,
जय जय गौरी शंकर जय जय गौरी शंकर……

भूत पिसाच रहे तेरे संग में,
भूत रहे तेरे संग में,
इनसे तेरे भगत हिम्मत,
तेरे गले में नाग फुफ्कार भरे…….

भूत प्रेत मरघाट के वासी,
बिन मतलब ना तांग करे,
बिन छेड़े नाग ना ​​किसी के लड़े…..

मूसाक मोर डरे तेरे नाग से,
इन्हें कैसे वास में करें,
तेरे गले में नाग फुफ्कार भरे….

कार्तिक गणपति प्यारे दुलारे,
ये सबको कंट्रोल करे,
बिन छेड़े नाग ना ​​किसी के लड़े…..

भोले जी इन्हे पारे हटा,
देख देख मेरा जिया हिम्मत,
तेरे गले में नाग गौरी शंकर,
तेरे गले में नाग फुफ्कार भरे,
शिव के नाग की फुफ्कार भरे…
श्रेणी
download bhajan lyrics (40 downloads)