श्री रामभक्त कहलाते

कलयुग के देव कहाते, और सफल बनाते काम,
मुश्किल को सरल बनाते, माँ अंजनीसुत बलवान,
सब मंगलमय कर देते, मारुतिनंदन भगवान,
श्री रामभक्त कहलाते जय जय बजरंग हनुमान,
सब मंगलमय कर देते, मारुतिनंदन भगवान,
श्रीरामभक्त कहलाते जय जय बजरंग हनुमान......

चाहे काम जो कोई कर ना पाए,
पलभर में हनुमत उसको कर जाए,
हैं बलकारी ये ब्रमचारी, शक्ति इनकी सब पे भारी
फाड़ के अपना सीना, दिखलाये श्री राम
सिंह के जैसे गरजे, बोले जय सियाराम
तब माना लंकेशपति ने सच्चा राम का दास
सब मंगलमय कर देते, मारुतिनंदन भगवान,
श्रीरामभक्त कहलाते जय जय बजरंग हनुमान.....

जब बाण से घायल लक्ष्मण जी पड़े थे,
तब नर मानव सब संकट में पड़े थे,
है कौन यहां बलवान जो रात में द्रोणागिरी को जाये,
लाकर के संजीवन बूटी लक्ष्मण के प्राण बचाये.....

जय जय बजरंगी आये, श्रीराम को शीश झुकाए,
पाकर आज्ञा बजरंगी, पवनवेग उड़ जाए,
चीर के सब बाधाएं पवनसुत लाए संजीवन दान,
सब मंगलमय कर देते, मारुतिनंदन भगवान,
श्रीरामभक्त कहलाते जय जय बजरंग हनुमान,
कलयुग के देव कहाते, और सफल बनाते काम,
जपते श्रीराम की माला, शिव शंकर के अवतार,
सब मंगलमय कर देते, मारुतिनंदन भगवान,
श्रीरामभक्त कहलाते जय जय बजरंग हनुमान….
download bhajan lyrics (56 downloads)